IDSA Kya Hai | IDSA Full Form in Hindi

इस आर्टिकल में हम जानेंगे IDSA Kya Hai के बारे में और साथ ही ये भी जानेंगे की इसका सदस्य बनने के लिए किन किन मापदंडों का पालन करना होता है। तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं।

IDSA Kya Hai

IDSA भारत की एक स्वतंत्र संस्था है जो Direct Selling कंपनियों और भारत सरकार के बीच एक सलाहकार के रुप में कार्य करती है। यह संस्था Direct Selling से संबंधित नीतिगत मुद्दों पर विचार करती है तथा डायरेक्ट सेलिंग में स्पष्टता लाने और लोगों का इसपर विश्वास बने रहे इसके लिए निरंतर इसपर काम करती है यह अपने सदस्य कंपनियों पर नजर रखती है की वो सही से काम कर रही है या नही। साथ ही यह समय समय पर इस व्यापार में होने वाली समस्यायों से सरकार को अवगत। भी कराती है। चूंकि IDSA एक स्वतंत्र संस्था है, कोई सरकारी संस्था नही है, तो किसी भी MLM कंपनी को इसका सदस्य होना जरुरी नही है। पर इसका सदस्य होने से किसी भी कंपनी की विश्वासनियता बढ़ जाती है, क्योंकि IDSA का सदस्य बनने के लिए कुछ मापदंड रखे गए हैं, और जो कंपनी ये मापदंडों को पूरा करती है वही इसका सदस्य बन सकती है।

IDSA Full Form in Hindi – इंडियन डायरेक्ट सेलिंग एसोसिएशन

Direct Selling कंपनियों ने और कई ऐसे स्वतंत्र संस्था बनाई है जैसे WFDSA तथा FDSA इत्यादि।

IDSA के सदस्य होने के लिए मापदंड (IDSA Guidelines)

IDSA के सदस्य होने के लिए कुछ मापदंड हैं और जो कंपनी इन मापदंडों को पूरा करती है, वही इसकी सदस्य बन सकती है, IDSA Rules and Regulations प्रकार है –

  1. कंपनी काम से कम तीन साल direct selling में काम कर चुकी हो।
  2. कंपनी भारत सरकार के नियमों के अनुसार काम कर रही हो।
  3. कंपनी का मार्केटिंग प्लान भारत सरकार द्वारा निर्धारित नियमों के अनुसार होना चाहिए।
  4. कंपनी की वित्तीय स्थिति मजबूत हो।
  5. कंपनी अपने उत्पादों का स्वामित्व रखती हो यानी कि उसका खुद का उत्पादन इकाई हो।
  6. कंपनी के प्रमोटर्स पर कोई अपराधिक मामला न हो।
  7. वार्षिक सदस्यता शुल्क 5 लाख रुपए है।

FDSA का सदस्य बनने के लिए नियम

  1. कंपनी Direct Selling में काम कर रही हो या करने की इच्छुक हो।
  2. कंपनी भारत सरकार के नियमों के अनुसार काम कर रही हो।
  3. कंपनी का मार्केटिंग प्लान भारत सरकार द्वारा निर्धारित नियमों के अनुसार होना चाहिए।
  4. कंपनी का वित्तीय स्थिति मजबूत हो।
  5. कंपनी की खुद की उत्पादन इकाई हो।
  6. कंपनी के प्रमोटर्स पर कोई अपराधिक मामला न हो।
  7. वार्षिक सदस्यता शुल्क 2 लाख रुपए है।

MLM UNION का सदस्य बनने के लिए नियम

  1. कंपनी Direct Selling में काम कर रही हो।
  2. कंपनी का मार्केटिंग प्लान भारत सरकार द्वारा निर्धारित नियमों के अनुसार होना चाहिए।
  3. कंपनी भारत सरकार की नियमों के अनुसार काम कर रही हो।
  4. कंपनी की वित्तीय स्थिति मजबूत हो।
  5. कंपनी अपने उत्पादों का स्वामित्व रखती हो यानी उसकी खुद की उत्पादन इकाई हो।
  6. कंपनी के प्रमोटर्स पर कोई अपराधिक मामला न हो।
  7. वार्षिक सदस्यता शुल्क 50000 रुपए है।

Leave a Comment