नेटवर्क मार्केटिंग की शुरुआत कैसे करें? जानिए सही तरीका | How To Start Network Marketing in Hindi

दोस्तो अगर आप जानना चाहते हैं नेटवर्क की शुरुआत कैसे करें या सर्च कर रहें हैं How to Start Network Marketing in Hindi तो यह आर्टिकल आपके लिए है।

इस आर्टिकल में मैं आप सभी को बताऊंगा की नेटवर्क मार्केटिंग शुरू करने का सही तरीका क्या है? वैसे तो भारत में बहुत सारी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियां हैं और सभी कंपनियां खुद को सबसे बेस्ट बताती हैं। लेकिन बहुत सारी कंपनियां लोगों के साथ फ्रॉड भी कर चुकी हैं ऐसे में जो लोग इस बिजनेस में आना चाहते हैं उनके लिए यह जानना मुश्किल हो जाता है की कौनसा कंपनी उनके लिए सही रहेगा और कौनसा नही जिससे उन्हे डर लगा रहता की कहीं वो कंपनी फ्रॉड ना निकल जाए और बाद में भाग ना जाए, लेकिन दोस्तों आपको डरने की जरूरत नही है अगर आप इस बिजनेस में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं और एक सही कंपनी की तलास में हैं तो आप बिलकुल सही जगह पर आएं हैं क्योंकि आज इस आर्टिकल में मैं आप लोगों को चार ऐसा तरीका बताने वाला हूं जिससे आप किसी भी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी के बारे में पता लगा सकते हैं की वह कंपनी सही या नही और आपको यह जानने में आसानी हो जाएगी की Network Marketing Kaise Start Kare जिससे बाद में कोई परेशानी ना हो। तो चलिए दोस्तों अब बिना टाइम वेस्ट सीधे प्वाइंट पे आते हैं जानते हैं और जानते हैं कौनसी वे चार बातें हैं जिनको आपको ध्यान में रखना है।

नेटवर्क मार्केटिंग की शुरुआत कैसे करें? How To Start Network Marketing in Hindi

How to join network marketing in hindi

किसी भी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी में ज्वाइन होने से पहले ये चार चीजें जरुर चेक कर लें

1. कंपनी का प्रोफाइल

2. कंपनी का प्रोडक्ट

3. कंपनी का बिजनेस प्लान

4. कंपनी का ट्रेनिंग सिस्टम

1.कंपनी की प्रोफाइल के बारे में जान लें

आपको सबसे पहले उस कंपनी की प्रोफाइल को चेक करना है की उस कंपनी का बैकग्राउंड क्या है, वह कंपनी कितना पॉवरफुल है। इसको आप इस तरह से समझ सकते हैं जैसे आप एक कॉलेज में एडमिशन लेते हैं तो सबसे पहले उस कॉलेज के बारे में पता करते हैं की उस कॉलेज का ट्रैक रिकार्ड क्या है? क्या उस कॉलेज में पढ़ाई होती है? क्या उस कॉलेज के प्रोफेसर सही से पढ़ाते हैं? क्या उस कॉलेज से जो पढ़ाई किए हैं उनको कहीं नौकरी मिली या नही? क्या वह कॉलेज मान्यता प्राप्त है भी या नहीं? इत्यादि। ठीक इसी तरह आपको एक नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी को भी पता लगाना चाहिए की उस कंपनी का ट्रैक रिकार्ड क्या है? क्योंकि आप उस कंपनी में अपना कैरियर बनाने जा रहे हैं और ना सिर्फ कैरियर बल्कि इसी से आप अपना फैमिली भी चलाने वाले हैं, इसलिए आपको हर एक चीज को अच्छे से जानने के बाद ही फैसला लेना चाहिए। तो चलिए अब जानते हैं की उस कंपनी के प्रोफाइल में हमें क्या क्या देखना चाहिए।

  • कंपनी कम से कम 3-4 साल पुरानी हो।
  • वह कंपनी भारत सरकार द्वारा निर्धारित डायरेक्ट सेलिंग गाइडलाइन को फॉलो करती हो।
  • कंपनी MCA में रजिस्टर्ड होना चाहिए तथा वह कंपनी सरकार को GST देती हो।
  • कंपनी अपने डिस्ट्रीब्यूटर या एम्प्लॉय को समय पर पेमेंट करती हो।
  • कंपनी के मालिक तथा डायरेक्टर के बारे में जान लें, कहीं उनके ऊपर कोई धोखाधड़ी का केस तो दर्ज नही है।
  • कंपनी में जुड़ते समय उसके कॉन्ट्रैक्ट फॉर्म या पॉलिसी को जरूर पढ़ें।

2.कंपनी की प्रोडक्ट के बारे में जान लें

किसी भी कंपनी के लिए उसका प्रोडक्ट बहुत मायने रखता है, क्योंकि प्रोडक्ट की सेल से ही कंपनी को प्रॉफिट होता है तो किसी भी कंपनी में जुड़ने से पहले उस कंपनी की प्रोडक्ट के बारे में जरूर जान लें की उस कंपनी का प्रोडक्ट क्या है और लोगों के लिए कितना किफायती है। कंपनी के प्रोडक्ट को चेक करते समय इन बातों का ध्यान रखें –

  • वह कंपनी अपने प्रोडक्ट खुद बनाती हो।
  • प्रोडक्ट ऐसा होना चाहिए जो ज्यादातर लोगों के काम आए, ऐसा नहीं की सिर्फ कुछ लोग ही उस तरह के प्रोडक्ट को इस्तेमाल करते हों।
  • वह प्रोडक्ट रोजमर्रा के जीवन में इस्तेमाल होती हो, जिसको लोग हर रोज, हर हफ्ते या हर महीने इस्तेमाल करते हों। ऐसा नहीं की कोई ऐसा प्रोडक्ट हो जिसको लोग सालभर में एक बार इस्तेमाल करें।
  • प्रोडक्ट की क्वालिटी अच्छी होनी चाहिए जिससे लोग बार बार उस प्रोडक्ट को इस्तेमाल करें। और अगर वे बिजनेस में ना भी रहें तो भी उस कंपनी के प्रोडक्ट को इस्तेमाल करें।
  • वह सभी प्रोडक्ट Government से Approved हो, ऐसा नहीं की कंपनी अपने से कुछ भी बेंच रही हो। क्योंकि ऐसे में कंपनी को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।
  • कंपनी में कई कैटेगरी के प्रोडक्ट उपलब्ध होने चाहिए, ऐसा नहीं की कंपनी सिर्फ एक प्रोडक्ट लेकर सिर्फ उसी को बेंच रही हो।
  • नेटवर्क मार्केटिंग में प्रोडक्ट महंगे हो या ना हों यह मैटर नही करता, लेकिन वह प्रोडक्ट ऐसा होना चाहिए जो लोगों के लिए फायदेमंद हो, और वह एक Valueable प्रोडक्ट हो।

3.कंपनी की बिजनेस प्लान के बारे में जान लें

नेटवर्क मार्केटिंग में हर कोई पैसा कमाने के लिए ही आता है तो यह सबसे जरूरी है की उस कंपनी की बिजनेस प्लान के बारे में सही जानकारी होना चाहिए। कंपनी किस प्लान पे काम करती है? क्या कंपनी में पहले लेवल से ही पैसा आता है या नही? क्या सभी डिस्ट्रीब्यूटर को बराबर पैसा कमाने का मौका मिलता है या नही? इन सभी बातों का ध्यान में रखना चाहिए। तो चलिए दोस्तों अब जानते हैं की कंपनी के बिजनेस प्लान में हमें क्या क्या देखना चाहिए।

  • कंपनी में ज्वाइन होने के लिए पहले ही लेवल में बहुत ज्यादा पैसा नही लगना चाहिए, जिससे लोग कम लागत में भी इस बिजनेस को स्टार्ट कर सकें।
  • कमीशन, प्रोडक्ट की बिक्री पर आना चाहिए ना की ज्वाइनिंग करवाने पर, क्योंकि बहुत सारी कंपनियां मनी सर्कुलेशन करती हैं और लोगों का पैसा लोगों को ही बांट देती है, इसलिए इस बात का ध्यान रखें की कंपनी में पैसा, प्रोडक्ट बिकने से आती हो ना की लोगों को ज्वाइन कराने से।
  • शुरुआती लेवल से ही इनकम आना स्टार्ट हो जाना चाहिए, हालांकि नेटवर्क मार्केटिंग में ज्यादा पैसा कमाने के लिए बड़ी टीम होना चाहिए, लेकिन फिर भी सिस्टम ऐसा हो जिससे अगर एक डिस्ट्रीब्यूटर मेहनत करे तो वह शुरुआती लेवल में भी अच्छा पैसा कमा सके।
  • कंपनी का बिजनेस प्लान ऐसा होना चाहिए जो लोगों को आसानी से समझ में आए की पैसा आ कैसे रहा है, ऐसा न हो की लोगों को पता ही ना चले की पैसे कैसे आ रहे हैं। बिजनेस प्लान में हर चीज क्लियर दिखाई देना चाहिए की किस लेवल से कितना प्रतिशत पैसा आ रहा है।
  • बिजनेस प्लान में बहुत ज्यादा कंडीशन नही होना चाहिए, हालांकि सभी प्लान में थोड़े बहुत कंडीशन होती है लेकिन इतना भी न हो की लोग उस कंडीशन को पूरा ही ना कर पाएं।
  • इसको भी ध्यान दें की कहीं कंपनी अपने बिजनेस प्लान में बार बार बदलाव तो नही कर रही है? क्योंकि बार बार बिजनेस प्लान में बदलाव करने से डिस्ट्रिब्यूटर को ही दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

4.कंपनी की ट्रेनिंग सिस्टम के बारे में जान लें

नेटवर्क मार्केटिंग में बिना सीखे कोई भी कामयाब नही हो सकता और पहले से सीखकर तो कोई आता नही है इसलिए यह सबसे जरूरी है की उस कंपनी में लोगों को इस बिजनेस के बारे में सिखाया जाता हो की कैसे इस बिजनेस को करना है और क्या क्या परेशानियां आ सकती हैं, इसके लिए उन्हें ट्रेनिंग देना बहुत जरूरी है जिससे उन्हे इस बिजनेस को करने में हेल्प मिल सके, तो दोस्तों किसी भी कंपनी में ये जरूर देखें की कंपनी में ट्रेनिंग किस तरह का होना चाहिए उसके लिए आप इन बातों का ध्यान रखें।

  • सबसे पहले तो ये देखें की आप जिस व्यक्ति के साथ इस बिजनेस में जुड़ रहें हैं वो आपको सीखा सकता है या नही? लेकिन यह जरूरी भी नही की हर बार वही सिखाए लेकिन फिर भी लोग ऐसे होने चाहिए जो आपको सीखा सकें।
  • ट्रेनिंग के लिए कोई शुल्क नहीं देना पड़ता हो, क्योंकि नेटवर्क मार्केटिंग में सिखाने का कोई पैसा नहीं लेता, यह पुराने लीडरों का कर्तव्य है की वह नए लोगों को सिखाए।
  • ट्रेनिंग सिर्फ मोटिवेशन के आधार पर नही होना चाहिए, बल्कि जो फैक्ट है वही सिखाया जाना चाहिए, नेटवर्क मार्केटिंग की सही जानकारी दिया जाता हो, स्किल डेवलपमेंट की ट्रेनिंग दिया जाता हो, पर्सनल ग्रोथ के बारे में सिखाया जाता हो।

तो दोस्तों ये थीं चार ऐसी बातें जो आपको किसी भी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी में जुड़ने से पहले उस कंपनी में देखना चाहिए।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में आपने जाना How to Start Network Marketing in Hindi के बारे में। इसमें मैने आपको चार बातें बताई जो आपको देखना चाहिए। दोस्तों अगर आप किसी भी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी में जुड़ना चाहते हैं तो सबसे पहले उस कंपनी की प्रोफाइल, प्रोडक्ट, बिजनेस प्लान तथा उस कंपनी की ट्रेनिंग सिस्टम के बारे जरूर जाने लें फिर उस कंपनी में जुड़ने का निर्णय लें। दोस्तों उम्मीद करता हूं अब आप अच्छे से समझ गए होंगे की नेटवर्क मार्केटिंग की शुरुआत कैसे करें और इसका सही तरीका क्या है, दोस्तों अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अन्य लोगों तक भी जरूर शेयर करें ताकी वे भी नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें के बारे में जान सकें।

Leave a Comment